UP Free Boring Scheme 2021|यूपी निःशुल्क बोरिंग योजना 2021-डाउनलोड नलकूप योजना आवेदन फॉर्म

यूपी निःशुल्क बोरिंग योजना 2021

UP Free Boring Scheme 2021:- जैसा कि आप सभी जानते हैं कि किसानों को सिंचाई के लिए विभिन्न प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। किसानों के पास बोरिंग की सुविधा नहीं है जिसके कारण वे अपनी फसलों की सिंचाई ठीक से नहीं कर पा रहे हैं।इसी को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा up फ्री बोरिंग योजना शुरू की गई है। इस योजना के माध्यम से किसानों के खेतों में बोरिंग की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

आज हम आपको इस आर्टिकल के जरिए इस स् कीम से जुड़ी तमाम अहम जानकारियां देने जा रहे हैं। जैसे इसका उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि। इसलिए मित्रों, यदि आप यूपी फ्री बोरिंग योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपसे अनुरोध है कि आप अंत तक हमारा यह लेख पढ़ें ।

UP Free Boring Yojana 2021:- 

1985 में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश के लघु और सीमांत किसानों को बोरिंग की सुविधा देने के लिए यूपी निशुल्क बोरिंग योजना शुरू की गई थी। इस योजना के माध्यम से सामान्य जाति और अनुसूचित जाति/जनजाति के लघु एवं सीमांत किसानों को सिंचाई के लिए बोरिंग की सुविधा प्रदान की जाएगी।

बोरिंग के लिए पंप सेट की व्यवस्था के लिए किसान द्वारा बैंक ऋण भी प्राप्त किया जा सकता है। इस योजना का लाभ सामान्य वर्ग के लघु एवं सीमांत किसानों को तभी मिलेगा, जब उनके पास न्यूनतम होल्डिंग सीमा 02 हेक्टेयर होगी। 02 हेक्टेयर से कम जमीन रखने वाले सामान्य वर्ग के किसानों को इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा। यदि किसानों के पास 02 हेक्टेयर से कम भूमि है तो किसानों का समूह बनाकर किसान इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लघु एवं सीमांत किसानों के लिए कोई न्यूनतम जोत सीमा निर्धारित नहीं की गई है। प्रदेश के पठारी क्षेत्रों में जहां हैंड बोरिंग सेट से बोरिंग किया जाना संभव नहीं होगा वहां इनवेल या वैगन ड्रिल मशीन से बोरिंग कराने की अनुमति प्रदान की जाएगी। इस स्थिति में कृषकों को अनुमन्य सीमा तक ही अनुदान देय होगा अतिरिक्त आय व्यय का भार कृषक द्वारा स्वयं वहन किया जाएगा।

यूपी निःशुल्क बोरिंग योजना का उद्देश्य क्या है?

यूपी निशुल्क बोरिंग योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश के किसानों को निशुल्क बोरिंग सुविधा उपलब्ध कराना है। ताकि प्रदेश के किसान सिंचाई कर सकें। फार्म की गुणवत्ता बढ़ाने में भी यह योजना कारगर साबित होगी। इस योजना के माध्यम से किसानों के जीवन स्तर में भी सुधार होगा।

इसके अलावा यह योजना किसानों की आय बढ़ाने में भी कारगर साबित होगी। सरकार इस योजना के माध्यम से किसानों को निशुल्क बोरिंग की सुविधा देगी। ताकि किसान अपने खेतों की सिंचाई कर सकें। पानी के अभाव में सिंचाई न होने से प्रदेश के किसानों को भी राहत मिलेगी।

Key Highlights Of UP Free Boring Yojana

योजना का नाम यूपी निःशुल्क बोरिंग योजना
किसने आरंभ की उत्तर प्रदेश सरकार
लाभार्थी उत्तर प्रदेश के किसान
उद्देश्य निशुल्क बोरिंग की सुविधा उपलब्ध करवाना
आधिकारिक वेबसाइट यहां क्लिक करें
साल 2021
राज्य उत्तर प्रदेश
आवेदन का प्रकार ऑनलाइन/ऑफलाइन

UP Free Boring Scheme के अंतर्गत अनुमन्य अनुदान:-

कृषक की श्रेणी अनुमन्य अनुदान अनुमन्य अनुदान
  बोरिंग निर्माण हेतु पंपसेट स्थापना हेतु
सामान्य श्रेणी के लघु कृषक अधिकतम ₹3000 प्रति बोरिंग यूनिट कास्ट ₹11300 का 25% अधिकतम ₹2800 प्रति पंप सेट
सामान्य श्रेणी के सीमांत कृषक अधिकतम ₹4000 प्रति बोरिंग यूनिट कास्ट ₹11300 का 33% अधिकतम ₹3750 प्रति पंप सेट
अनुसूचित जाति/जनजाति के लघु/सीमांत कृषक अधिकतम ₹6000 प्रति बोरिंग यूनिट कास्ट ₹11300 का

Important Document

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आयु का प्रमाण
  • राशन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर

Contact details:- 

  • Office Address- Chief Engineer, Minor Irrigation Department, 3rd Floor, North Wing, Jawahar Bhawan, Lucknow 226001
  • फोन नं० : 2286627 / 2286601 / 2286670
  • फैक्स : 2286932
  • ईमेल : milu-up@nic.in

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page