Bihar Board 12th Physics Answer Key 2022

Bihar Board 12th Physics Answer Key 2022: 2 February Physics Answer Key जल्दी डाउनलोड करलो

Bihar Board 12th Physics Answer Key 2022: 2 February Physics Answer Key जल्दी डाउनलोड करलो

Bihar Board 12th Physics Answer Key 2022 : बिहार विद्यालय परीक्षा समिति – 12th PHYSICS का Answer Key आप सभी को इस पोस्ट में मिलने वाला है | और और हां दोस्तों जैसा कि आप सभी को पता होगा की आज है आपका 2 फरवरी और आज आपका Exam हुआ है भौतिक(PHYSICS) के परीक्षा में आप सभी को A से H के बीच में कोई भी Code मिला होगा |

12th Exam Answer Key 2022 : ANSWER KEY

बिहार बोर्ड में इंटर की परीक्षा के लिए कला संकाय वाणिज्य संकाय एवं विज्ञान संकाय सभी के लिए एक साथ ही टाइम टेबल घोषित कर दिया है ऐसे में परीक्षार्थी की परीक्षा 1 फरवरी से शुरू हो जाएगी अब  बात आती है कि परीक्षा का क्वेश्चन पेपर उत्तर के साथ में डाउनलोड कैसे करना है तो घबराइए मत इसकी जानकारी आप सभी विद्यार्थियों को आगे मिलेगी तो सभी छात्र एवं छात्राएं इस पोस्ट को ध्यान से अंत तक पढ़े!

Bihar Board 12th 2022 Question Paper Download
Bihar Board 12th 2022 Question Paper Download

1. एक आवेशिक चालक का क्षेत्र आवेश घनत्व σ है। इसके पास विद्युत क्षेत्र का मान होता है- The area of a charge conductor is the charge density σ. It has an electric field value
(A) σ / 2ε0                       (B) σ / ε0
(C) 2σ / ε0                       (D) σ / 3ε0

          Answer ⇒  B

2. इनमें कौन विद्युत-क्षेत्र की तीव्रता का मात्रक है ? Which of these is the unit of intensity of electric field?
(A) कूलॉम (C)                         (B) न्यूटन (N)
(C) वोल्ट (V)                            (D) NC^-1

          Answer ⇒  D

3. किसी पदार्थ का परावैद्युत नियतांक हमेशा अधिक होता है- The dielectric constant of a substance is always higher-
(A) शून्य से                         (B) 0.5 से
(C) 1 से                             (D) 2 से

          Answer ⇒  C

4. किलोवाट-घंटा (KWh) मात्रक है- The kilowatt-hour (KWh) unit is
(A) शक्ति का power                  (B) ऊर्जा का Energy
(C) बल-आघूर्ण का torque          (D) इनमें कोई नहीं None of these

          Answer ⇒  B

5. आपको 1Ω के तीन प्रतिरोध दिए गए हैं। इनके संयोजन से न्यूनतम प्रतिरोध प्राप्त किया जा सकता है- You are given three resistances of 1Ω. Minimum resistance can be achieved by combining these-
(A) 1Ω                               (B) 1 / 2 Ω
(C) 2Ω                               (D) 1 / 3 Ω

          Answer ⇒  D  YouTube-Education Galaxy

6. दिये गये परिपथ में A और B के बीच समतुल्य प्रतिरोध होगा- The equivalent resistance between A and B in the given circuit will be-
(A) 2Ω                             (B) 3Ω
(C) 2.5Ω                          (D) 12Ω

          Answer ⇒  A

7. ध्रुव प्रबलता का SI मात्रक है- The SI unit of pole strength is-
(A) N                       (B) N/A-m
(C) A-m                   (D) T

          Answer ⇒  C [YouTube-Education Galaxy]

8. चुंबकशीलता की विमा है- The dimension of magnetism is-
(A) MLT 2I-2                 (B) MLT-2I-2
(C) MLT-2I                    (D) MLT2I2

          Answer ⇒  B

9. एक वृत्तीय धारालूप का चुम्बकीय द्विध्रुव आघूर्ण M है। यदि धारा लूप की त्रिज्या आधी कर दी जाए तब चुम्बकीय आघूर्ण होगा- The magnetic dipole moment of a circular edge is M. If the radius of the current loop is halved, then the magnetic moment will be
(A) M    [YouTube-Education Galaxy]     (B) M / 2
(C) M / 4                                 (D) 4M

          Answer ⇒  C

10. ताँबा (Copper) है।- Copper is-
(A) प्रतिचुम्बकीय पदार्थ Diamagnetic material       (B) लौह-चुम्बकीय पदार्थ ferromagnetic material
(C) अनुचुम्बकीय पदार्थ Paramagnetic material      (D) इनमें से कोई नहीं None of these

          Answer ⇒  A

11. डायनेमो के कार्य का सिद्धांत आधारित है– The principle of working of dynamo is based on-
(A) धारा के ऊष्मीय प्रभाव पर Thermal effect of current
(B) विद्युत-चुंबकीय प्रेरण पर on electro-magnetic induction
(C) प्रेरित चुंबकत्व पर induced magnetism
(D) प्रेरित विद्युत पर induced electricity

          Answer ⇒  B

12. विद्युत चुम्बकीय प्रेरण से संबंधित नियम को कहते हैं- The law related to electromagnetic induction is called-

(A) न्यूटन का नियम Newton’s law        [YouTube-Education Galaxy]  

(B) ओम का नियम Ohm’s law

(C) फैराडे का नियम Faraday’s law

(D) ऐम्पियर का नियम Ampere’s law

          Answer ⇒  C

13. एक प्रत्यावर्ती विद्युत-धारा का समीकरण I = 0.6sin 100πt से निरूपित है। विद्युत-धारा की आवृत्ति है- The equation of an alternating current is denoted by I = 0.6sin 100πt. Frequency of electric current is-

(A) 50π      [YouTube-Education Galaxy]         (B) 50

(C) 100π                                          (D) 100

          Answer ⇒  B

14. शीर्ष धारा I0 और वर्ग मूल धारा Irms में संबंध है- The relation between Peak Current I0 and  root Mean Square current Irms is-

(A) Io = √2 Irms

(B) Io =  Irms

(C) Io = 2 Irms

(D) Io =  Irms / √2

          Answer ⇒  A

15. एक प्रत्यावर्ती धारा का समीकरण है I = 60 sin 100πt; धारा के मूल-माध्य-वर्ग का मान होगा –The equation of a alternating current is I = 60 sin 100πt; The value of the root mean-square of the stream will be –

(A) 60 / √2

(B) 30

(C) 100 

(D) शून्य

          Answer ⇒  A

16. निम्नलिखित में कौन विद्युत चुंबकीय तरंगवाले गुण का है- Which of the following is the property of electromagnetic wave

(A) एल्फा किरणें  Alpha rays

(B) बीटा किरणें Beta rays

(C) गामा किरणें Gamma rays

(D) इनमें से कोई नहीं  None of these

          Answer ⇒  C
DOWNLOAD PDF 👇👇
CLICK HERE 👆👆

17. निम्नलिखित में कौन-सी विद्युत चुम्बकीय तरंगें नहीं हैं- Which of the following are not electromagnetic waves?

(A) अल्फा किरणें Alpha rays

(B) गामा किरणें  Gamma rays

(C) अवरक्त किरणें Infrared rays

(D) एक्स-किरणें X-rays

          Answer ⇒  A

18. जब प्रकाश काँच में प्रवेश करती है, तो इसका तरंगदैर्घ्य- When light enters the glass, its wavelength –

(A) घटता है decreases

(B) बढ़ता है increases

(C) अपरिवर्तित रहता है remains unchanged

(D) आँकड़े पूर्ण नहीं हैं Statistics are not complete

          Answer ⇒  A

19. मृगमरीचिका का कारण है- The reason for mirage is-

(A) पूर्ण आंतरिक परावर्तन full internal reflection

(B) विवर्तन Diffraction

(C) प्रकीर्णन  scattering

(D) व्यतिकरण Interpretation

          Answer ⇒  A

20. एक लेंस (μ = 1.5) की हवा में फोकस-दूरी 20 cm है। 1.5 अपवर्तनांक वाले माध्यम में उस लेंस की फोकस-दूरी होगी- The focus-distance in the air of a lens (μ = 1.5) is 20 cm. The focus distance of the lens in a medium with a refractive index of 1.5 will be-

(A) 120 cm 

(B) 40 cm

(C) 10 cm 

(D) ∞

          Answer ⇒  D

21. यदि समान फोकस-दूरी के दो अभिसारी लेंस एक-दूसरे के संपर्क में रखे हों तब संयोग की फोकस-दूरी होगी- If two converging lenses of the same focus-distance are placed in contact with each other, then the focus-distance of the coincidence will be-

(A) f                                  (B) 2f

(C) f/2                             (D) 3f

          Answer ⇒  C

22. ब्रूस्टर का नियम है- Brewster’s rule is-

(A) μ= sin ip                                          (B) μ= cos i

(C) μ= tan ip                                        (D) μ= tanip

          Answer ⇒  C

23. प्रकाश-किरणके तीखे कोर पर से मुड़ने की घटना को कहते हैं-  The incident of turning from the sharp core of light rays is called-

(A) अपवर्तन  refraction                    (B) विवर्तन diffraction

(C) व्यतिकरण  Interpretation        (D) ध्रुवण polarization

          Answer ⇒  B

24. प्लांक स्थिरांक की विमा है- The dimensions of the Planck constant are-

(A) ML2T-1                            (B) ML2T-2

(C) MLT-1                              (D) MLT-2

          Answer ⇒  A

25. निम्नलिखित में किस वैज्ञानिक ने क्वांटम सिद्धांत का प्रतिपादन किया था ?- Which of the following scientists proposed quantum theory? –

(A) रदरफर्ड ने  Rutherford            (B) बोर ने  Bohr

(C) डाल्टन ने Dalton                       (D) प्लांक ने  Plank

          Answer ⇒  D

26. किसी परमाणु का नाभिक बना होता है- The nucleus of an atom is made by-

(A) प्रोटॉन से  Proton

(B) प्रोटॉन और इलेक्ट्रॉन से protons and electrons

(C) ऐल्फा कण से Alpha particle

(D) प्रोटॉन और न्यूट्रॉन से protons and neutrons

          Answer ⇒  D

27. द्रव्यमान, ऊर्जा के समतुल्य है, सही संबंध है- Mass, equivalent to energy, the correct relationship is-

(A) m = E                      (B) m2 = E 

(C) mc2 = E                  (D) m = √E

          Answer ⇒  C

28. दशमिक संख्या 25 का निम्नलिखित में द्विआधारी संख्या है- The decimal number 25 of the decimal number 25 is-

(A) (1100)2                               (B) (1001)2

(C) (11001)2                           (D) (11101)2

          Answer ⇒  C

29. जर्मेनियम क्रिस्टल को n-टाइप अर्धचालक बनाने के लिए आवश्यक अपद्रव्य परमाणु की जो संयोजकता होनी चाहिए, वह है- The valency atom required to make a germanium crystal an n-type semiconductor is

(A) 2                                 (B) 3

(C) 4                                 (D) 5

          Answer ⇒  D

30. OR गेट के लिए बूलियन व्यंजक होता है ।– OR is a Boolean expression for gate.

(A) A + B =Y                     (B) A. B = 0 

(C) A = A                           (D) Y = AB

          Answer ⇒  A

31. आयाम मॉडुलेशन सूचकांक- Amplitude modulation index-

(A) हमेशा शून्य होता है

(B) 1 और ० के बीच होता है

(C) 0 और 1 के बीच होता है।

(D) 0.5 से अधिक नहीं हो सकता है

          Answer ⇒  C

32. ट्रांसफार्मर में नियत रहने वाली भौतिक राशि है  The physical amount constant in the transformer is

(A) विभव Potential

(B) धारा Current

(C) आवृति  frequency

(D) इनमें से कोई नहीं None of these

          Answer ⇒  C

33. एक गैलवेनोमीटर का प्रतिरोध G है । मुख्य धारा का 1 प्रतिशत की गैलवेनोमीटर में प्रवाहित हो इसके लिए शंट का मान होना चाहिए – The resistance of a galvanometer is G. For the current flowing in a galvanometer of 1 percent, the value of the shunt should be –

(a) G / 99

(b) G / 90

(c) G / 100

(d) 99G / 100

          Answer ⇒  A

34. किसी वृत्ताकार कुण्डली में धारा प्रवाहित की जाती है । यदि कुण्डली की त्रिज्या दुगुनी कर दिया जाए, तो उसके केन्द्र पर चुम्बकीय क्षेत्र की तीव्रता का मान हो जाएगा।- In a circular coil, the current flows. If the radius of the coil is doubled, then the intensity of the magnetic field at its center will be calculated.

(a) बराबर

(b) आधा

(c) दुगुना

(d) चौ गुना

          Answer ⇒  B

35. डायनेमो के कार्य का सिद्धान्त आधारित है– The principle of dynamo work is based on-
(a) धारा के ऊष्मीय प्रभाव पर Thermal effect of current
(b) विद्युत-चुंबकीय प्रेरण पर Electromagnetic induction
(c) प्रेरित चुंबकत्व पर induced magnetism
(d) प्रेरित विद्युत पर induced electricity

          Answer ⇒  B

36. हवा में εr का मान होता है :-

(A) शून्य                         (B) अनंत

(C) 1                             (D) 9 x 109

          Answer ⇒  C

37. विद्युत-क्षेत्र में एक आवेशित कण पर लगने वाला बल का मान होता है :

(A) qE                                   (B) q ⁄ E

(C) E ⁄ q                                 (D) √qE

          Answer ⇒  A

38. विद्युत फ्लक्स का S.I. मात्रक है :-

(A) ओम-मीटर                       (B) एम्पीयर-मीटर

(C) वोल्ट-मीटर                      (D) (वोल्ट)(मीटर) -1

          Answer ⇒  C

39. संबंध Q = ne में निम्नलिखित में कौन n का मान संभव नहीं है?

(A) 4                          (B) 8

(C) 4.2                     (D) 100

          Answer ⇒  C

40. आवेश का पृष्ठ-घनत्व बराबर होता है :-

(A) कुल आवेश × कुल क्षेत्रफल

(B) कुल आवेश / कुल क्षेत्रफल

(C) कुल आवेश / कुल आयतन

(D) कुल आवेश × कुल आयतन

          Answer ⇒  B

41. किसी माध्यम की आपेक्षिक परावैद्युतता ( εr) होती है :-

(A) ε ⁄ ε0                          (B) ε × ε0

(C) ε + ε0                      (D) ε – ε0

          Answer ⇒  A

42. पानी का परावैद्युत स्थिरांक होता है :-

(A) 80                             (B) 60

(C) 1                               (D) 42.5

          Answer ⇒  A

43. 1 / 4πεका मान होता है :

(A) 9x 109 Nm2c-2                  (B) 9x 10-9 Nm2c-2

(C) 9×1012 Nm2c-2              (D) 9 x 10-12 Nm2c-2

          Answer ⇒  A

44. आवेश का विमा होता है :

(A) AT                 (B) AT-1 

(C) A-1T               (D) AT2

          Answer ⇒  A

45. ε0 का मात्रक है :-

(A) Nm-1                             (B) Fm-1

(C) CV-1                             (D) F.m

          Answer ⇒  B

46. किसी दूरी पर अवस्थित दो आवेशित कण के बीच विद्युत बल F है। यदि उनके बीच की दूरी आधी कर दी जाए तो विद्युत बल का मान होगा:

(A) 4F                                (B) 2F

(C) F                                  (D) 1 / 2 F

          Answer ⇒  A

47. जब किसी वस्तु को आवेशित किया जाता है, तो उसका द्रव्यमान :-

(A) बढ़ता है                    (B) घटता है

(C) अचर रहता है           (D) बढ़ या घट सकता है

          Answer ⇒  D

48. विद्युत् शीलता का S.I. मात्रक होता है :-

(A) N-1M-2C2                        (B) NM2C-2 

(C) N-1M2C2                          (D) इनमें कोई नहीं

          Answer ⇒  A

49. कूलम्ब बल है :-

(A) केन्द्रीय बल                           (B) विद्युत बल

(C) ‘A’ और ‘B’ दोनों                  (D) इनमें कोई नहीं

          Answer ⇒  C

50. यदि समरूप विद्युत क्षेत्र x-अक्ष की दिशा में विद्यमान है, तो सम विभव होगा :

(A) XY-तल की दिशा में   (B) Xz-तल की दिशा में

(C) YZ-तल की दिशा में   (D) कहीं भी

          Answer ⇒  C

51. विद्युत आवेश का क्वांटक e.s.u. मात्रक में होता है :-

(A) 4.78 x 10-10                (B) 1.6 x 10-19 

(C) 2.99 x 109                   (D) – 1.6 x 10-19

          Answer ⇒  A

52. स्थिर विद्यत क्षेत्र होता है:-

(A) संरक्षी               (B) असंरक्षी

(C) कहीं संरक्षी कहीं असंरक्षी

(D) इनमें से कोई नही

          Answer ⇒  A

53. एक एकांकी चालक के लिए निम्न में से कौन अनुपात अचर होता है :

(A) कुल आवेश/विभव                (B) दिया गया आवेश/विभवांतर

(C) कुल आवेश/विभवांतर         (D) इनमें से कोई नहीं

          Answer ⇒  A

54. 1 कूलॉम आवेश = ……. e.s.u.

(A) 3 x 109                     (B) 9 x 109

(C) 8.85 x 10-12         (D) इनमें से कोई नहीं

          Answer ⇒  A

55. एक आवेशित चालक की सतह के किसी बिन्दु पर विद्युतीय क्षेत्र की तीव्रता :-

(A) शून्य होती है                       (B) सतह के लम्बवत होती है .

(C) सतह के स्पर्शीय होती है     (D) सतह पर 45° पर होती है

          Answer ⇒  B

56. यदि किसी खोखले गोलीय चालक को धन आवेशित किया जाए, तो उसके भीतर का विभव :-

(A) शून्य होगा                   (B) धनात्मक और समरूप होगा

(C) धनात्मक और असमरूप होगा

(D) ऋणात्मक और समरूप होगा

          Answer ⇒  B

57. साबुन के एक बुलबुले को जब आवेशित किया जाता है, तो उसकी त्रिज्या :-

(A) बढ़ती है

(B) घटती है

(C) अपरिवर्तित रहती है

(D) शून्य हो जाता है

          Answer ⇒  A

58. विद्युत द्वि-ध्रुव आघूर्ण का S.I. मात्रक होता है :

(A) कूलम्ब × मी. (C x m)

(B) कूलम्ब / मी. (C / m)

(C) कूलम्ब-मी2 (Cx m2)

(D) कूलम्ब2 x मीटर (C2 x m)

          Answer ⇒  A

59. विद्युत क्षेत्र में प्रवेश करने वाले एक इलेक्ट्रॉन का प्रारम्भिक वेग विद्युत क्षेत्र से भिन्न दिशा में है। विद्युत क्षेत्र में इलेक्ट्रॉन का पथ होगा :-

(A) सरल रेखीय                       (B) वृत्त

(C) दीर्घ वृत्त                            (D) परिवलय

          Answer ⇒  D

60. ε0 की विमाएँ हैं :-

(A) M-1L-3T3A           (B) M-1L-3T4A2

(C) M°L°T°A            (D) MƏL-T3A3

          Answer ⇒  B
DOWNLOAD PDF 👇👇
CLICK HERE 👆👆

 61. एक स्थिर आवेश उत्पन्न करता है :-

(A) केवल विद्युत क्षेत्र

(B) केवल चुम्बकीय क्षेत्र

(C) विद्युत क्षेत्र तथा चुम्बकीय क्षेत्र दोनों

(D) कोई क्षेत्र उत्पन्न नहीं करता

          Answer ⇒  A

62. मुक्त आकाश (Free space) की परावैद्युतता (ε0) होती है :-

(A) 9x 109 mF-1                    (B) 1.6 x 10-19 C

(C) 8.85 x 10-12 Fm-1       (D) इनमें कोई नहीं

          Answer ⇒  C

63. यदि दो आवेशों के बीच दूरी दुगनी कर दी जाए, तो उनके बीच लगने वाला बल हो जाता है :-

(A) ½ गुना                             (B) 2 गुना

(C) ¼ गुना                             (D) 4 गुना

          Answer ⇒  C

64. E (vector) तीव्रता के विद्युत क्षेत्र में p (vector) द्विध्रुव आघूर्ण वाले विद्युत द्विध्रुव पर लगने वाला बल आघूर्ण है :

(A) p x E (vector)             (B) p.E (vector)

(C) E x p (vector)            (D) p / E

          Answer ⇒  A

65. विद्युत् तीव्रता की विमा है :-

(A) MLT-2I-1]                       (B) [MLT-3I-1]

(C) [ML2T-3I-2]                   (D) [ML2T2I2]

          Answer ⇒  B

66. किसी आवेशित खोखले गोलाकार चालक के भीतर विद्युतीय तीव्रता का मान होता है :-

(A) E0σ                                (B) σ / E0

(C) Zero                              (D) E/ 2

          Answer ⇒  C

67. एक वैद्युत द्विधूव एक पृष्ठ से घिरा हुआ है। पृष्ठ पर कुल विद्युतीय फ्लक्स होगा :-

(A) अनंत                                           (B) शून्य

(C) q / E0                                                     (D) इनमें से कोई नहीं

          Answer ⇒  B

68. एक आवेशित चालक का क्षेत्र आवेशं घनत्व σ है । इसके पास विद्युत क्षेत्र का मान होता है :  अथवा, आवेशित गोलीय चालक के अंदर विद्युत क्षेत्र होता है :

(A) σ / 2ε0    [YouTube-Education Galaxy]     (B) σ / ε0

(C) 2σ / ε0                                                 (B) σ / 3ε0

          Answer ⇒  B

69. यदि गोले पर आवेश 10 μC हो, तो उसकी सतह पर विद्युतीय फ्लक्स है –

(A) 36π x 104 Nm2/C         (B) 36π x 10-4 Nm2/C

(C) 36π x 10 Nm2/C            (D) 36π x 10-6Nm2/C

          Answer ⇒  A

70. 64 समरूप बूंदें जिनमें प्रत्येक की धारिता 5 μF है मिलकर एक बड़ा बूँद बनाते हैं। बड़े बूंद की धारिता क्या होगी ?

(A) 16 μF                                      (B) 20 μF

(C) 4 μF                                       (D) 25 μF

          Answer ⇒  B
Answer:- (B)

 

🔥 सभी Test लगाओ 🔥
Test के लिए All the Best 💐💐

12987

12th Physics Viral Question

🔥 सभी Test लगाओ 🔥
Test के लिए All the Best 💐💐

1 / 50

1.

आवेश का S.I. मात्रक होता है :- (2016,S.E)

2 / 50

2.

किसी आवेश से अनंत दूरी पर उस आवेश के कारण विद्युत क्षेत्र की तीव्रता होती है –

3 / 50

3. स्विच ऑन करने के बाद एक इलेक्ट्रिक बल्ब का ताप

 

4 / 50

4. एक दस ओम तार की लम्बाई को खींचकर तिगुना लम्बा कर दिया जाता है। तार का नया प्रतिरोध होगा :

 

5 / 50

5. प्रतिघात का मात्रक है ?

 

6 / 50

6. इनमें से कौन अनुचुम्बकीय पदार्थ है -

 

7 / 50

7. चुम्बकीय क्षेत्र के फ्लक्स की S.I. इकाई होती है ?

 

8 / 50

8.

कूलम्ब बल है – (2021A)

9 / 50

9.

यदि दो आवेशों की दूरी बढ़ा दी जाये तो आवेशों के विद्युतीय स्थितिज उर्जा का मान –

10 / 50

10. 100 W हीटर के द्वारा उत्पन्न ताप 2 मिनट में किसके बराबर है ?

 

11 / 50

11.

किसी वस्तु पर आवेश की न्यूनतम मात्रा कम नहीं हो सकती । vvi 

12 / 50

12. डायनेमो के कार्य का सिद्धान्त आधारित है

13 / 50

13.

डिबाई मात्रक है ? (Imp)

14 / 50

14.

किसी अनावेशित वस्तु पर एक कूलम्ब आवेश होने के लिए उसमें से निकाले गये इलेक्ट्रॉनों की संख्या होगी

15 / 50

15. एक आदर्श वोल्टमीटर का प्रतिरोध होता है

16 / 50

16.

किसी आवेशित खोखले गोलाकार चालक के भीतर विद्युतीय तीव्रता का मान होता है –

17 / 50

17.

एक वैद्युत द्विध्रुव एक पृष्ठ से घिरा हुआ है। पृष्ठ पर कुल विद्युत फ्लक्स होगा –

18 / 50

18. प्रकाश की अनुप्रस्थ तरंग प्रकृति पुष्टि करता है

 

19 / 50

19.

1 कूलॉम आवेश बराबर होता है –(20014A)

20 / 50

20.

किसी वस्तु पर आवेश का कारण है।

21 / 50

21. एक्स किरणों के गुण वैसे ही हैं, जैसे

 

22 / 50

22. हीटस्टोन ब्रिज से मापा जाता है :-

 

23 / 50

23.

जब कोई वस्तु ऋणावेशित हो जाती है तो इसका द्रव्यमान क्या होता है। (2015C)

24 / 50

24.

इलेक्ट्रॉन पर आवेश बराबर होता है – (2016A)

25 / 50

25.

एक विद्युत् द्वि-ध्रुव एक पृष्ठ से घिरा हुआ है। पृष्ठ पर कुल फ्लक्स होगा –

26 / 50

26. कॉपर पायराइट का सूत्र है  :-

 

27 / 50

27. प्रत्यावर्ती धारा परिपथ में यदि धारा I एवं वोल्टेज के बीच कलांतर Φ हो, तो

धारा का वाटहीन घटक होगा|

28 / 50

28.

इलेक्ट्रॉन पर आवेश बराबर होता है – (2016A)

29 / 50

29.

किसी वस्तु पर 1 कूलम्ब आवेश तब संभव है जब उससे निकाले गए इलेक्ट्रॉनों की संख्या होगी

30 / 50

30. फ्यूज-तार किस पदार्थ से निर्मित होती है ?

31 / 50

31.

दो चालकों के बीच आवेश के वितरण से होने वाली ऊर्जा की हानि निर्भर करती है –

32 / 50

32.

किसी आवेशित गोलीय खोखले चालक के भीतर विद्युत तीव्रता होती है –VVI

33 / 50

33. वह यंत्र जो यांत्रिक ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में बदलता है कहा जाता है

 

34 / 50

34. निम्न में से कौन-सा पदार्थ संयोजक तार बनाने के लिए सर्वाधिक उत्तम है?

 

35 / 50

35.

विद्युतीय क्षेत्र का विमीय सूत्र है :-

36 / 50

36. इलेक्ट्रॉनवोल्ट (ev) मापता है :-

 

37 / 50

37. एक तार में 1A धारा प्रवाहित हो रही है। यदि इलेक्ट्रॉन का आवेश 1.6 × 10-19 C हो,

तो प्रति सेकेण्ड तार में प्रवाहित इलेक्ट्रॉनों की संख्या है |

38 / 50

38. 1 Ω प्रतिरोध वाले एक समरूप तार को चार बराबर टुकड़ों में काटकर उन्हें समांतरक्रम में जोड़ दिया जाए तो संयोग का समतुल्य प्रतिरोध होगा

 

39 / 50

39. 1kWh किसके बराबर होता है ?

 

40 / 50

40.

फ्लक्स घनत्व का मात्रक होता है – (2018C)

41 / 50

41. यदि 100 V तक आवेशित करने पर एक संधारित्र की संचित ऊर्जा 1 J हो,

तो संधारित्र की धारिता होगी

42 / 50

42.

एक आवेशित चालक का क्षेत्र आवेश घनत्व σ है। इसके पास विद्युत क्षेत्र का मान होता है

43 / 50

43. स्वप्रेरकत्व का S.I. मात्रक है :-

44 / 50

44. आदर्श आमीटर का प्रतिरोध

 

45 / 50

45.

1 कूलॉम आवेश बराबर होता है –

46 / 50

46.

निकटदृष्टि के उपचार के लिए कौन सा लेंस प्रयुक्त होता है ? vvi

47 / 50

47.

आवेश की विमा है –(imp)

48 / 50

48. स्थिर विभवांतर पर किसी विद्युत परिपथ का प्रतिरोध आधा कर दिया जाता है,

उत्पन्न ऊष्मा का मान होगा

49 / 50

49. तापक्रम बढ़ाने पर यदि प्रतिरोध घटता है तो वह है :

 

50 / 50

50. पृथ्वी के चुंबकीय ध्रुव पर नमन-कोण का मान होता है

Your score is

The average score is 66%

0%

 

12th Physics Top 32 Subjective Question For Exam 2022 – Education Galaxy – 12th Physics Subjective Question Exam 2022 | Physics VVI Subjective Question 12th 2022 

12th Physics Top 32 Subjective Question For Exam 2022

1. लॉरेंट्ज बल क्या है ? What is a Lorentz force?

2. विद्युत फ्लक्स को परिभाषित करें। इसके SI मात्रक को लिखें।
Define electrical flux. Write its SI unit.

3. शंट क्या है? इसके दो उपयोग लिखें। What is shunt? Write two uses of it.

4. विद्युत-चुंबकीय प्रेरण का लेंज का नियम, ऊर्जा के संरक्षण के सिद्धांत
का पालन करता है। इसकी विवेचना करें। Lange’s law of electro-magnetic induction follows the principle of conservation of energy. Discuss it.

5. विद्युत-चुंबकीय तरंग के दो गुणों को लिखें। Write two properties of electromagnetic wave.

6. किसी सतह पर विद्युत फ्लक्स की परिभाषा दें। Give the definition of electrical flux on a surface.

7. वायुमंडल वैद्युत उदासीन नहीं होता है, क्यों ? The atmosphere is not electrically neutral, why?

8. अतिचालकता से क्या समझते हैं ? What do you understand by superconductivity?

9. चुम्बकीय क्षेत्र रेखाएँ क्या है ? इसके दो गुणों को लिखें। What are magnetic field lines? Write its two properties.

10. आवेश के क्वांटीकरण से क्या समझते हैं ? What do you understand by quantification of charge?

11. लौह-चुम्बकीय पदार्थ से क्या समझते हैं ? इसके गुणों को लिखें।
What do we mean by iron-magnetized material? Write down its properties.

12. क्यूरी के नियम से क्या समझते हैं? What do we understand by Curie’s law?

13. पराबैंगनी विकिरण के दो गुणों एवं दो उपयोगों को लिखें। Write two properties and two uses of ultraviolet radiation.

14. ऑप्टिकल फाइबर क्या है ? इसके दो उपयोगों को लिखें। What is optical fiber? Write down its two uses.

15. अपवर्तनांक से क्या समझते हैं ? What do you understand by refractive index?

16. प्रकाश विद्युत प्रभाव क्या है ? What is Photo electric effect?

17. विकिरण के क्वांटम सिद्धांत को लिखें। Write the quantum theory of radiation.

18. नाभिकीय बल क्या है? इसके गुणों को लिखें। What is nuclear force? Write down its properties.

19. कैथोड किरणें क्या है? समझावें। What is cathode rays? Explain

20. ऐनालॉग और डिजिटल संकेत से क्या समझते हैं ? What do you understand by analog and digital signal?

21. नोट लिखें:-Write a note:–
(a) www
(b) FAX
(c) Chat
(d) E-Commerce (ई-कॉमर्स)

22. संधारित्र से क्या समझते हैं ? इसकी धारिता को भी बतावें । What do you understand by capacitor? Also tell about its capacity.

23. विद्युत चुम्बकीय प्रेरण क्या है ? What is electromagnetic induction?

24. पृथ्वी के चुम्बकत्व का क्या कारण है ? What is the reason for Earth’s magnetism?

25. विद्युतीय द्विधुव आघूर्ण क्या है? इसका S.I मात्रक को लिखें। What is electric dipole moment? Write its S.I unit.

26. स्वप्रेरण एवं अन्योन्य प्रेरण में अंतर स्पष्ट करें। Explain the difference between self-motivation and interaction.

27. समझावें कि किरचॉफ का द्वितीय नियम ऊर्जा संरक्षण का नियम है. Explain that Kirchhoff’s second law is the law of conservation of energy.

28. स्थायी चुम्बक एवं विद्युत चुम्बक में अंतर स्पष्ट करें। Explain the difference between a permanent magnet and an electromagnet.

29. चुम्बकीय क्षेत्र रेखाएँ क्या है ? इसके दो गुणों को लिखें। What are magnetic field lines? Write its two properties.

30. x किरण के उत्पत्ति को बताएँ एवं इसके गुणों को लिखें। Explain the origin of x ray and write its properties.

31. लेसर प्रकाश के गुणों एवं उपयोगों को लिखें। Write down the properties and uses of laser light.

32. नाभिकीय रिएक्टर क्या है? इसके दो उपयोग दें। What is a nuclear reactor? Give it two uses.

 


ANSWER :- उत्तर –

1. लॉरेंट्ज.बल क्या है ?
उत्तर ⇒ यदि चुंबकीय क्षेत्र (B vector ) में कोई आवेशित कण (q) की गति । हो तो उस कण पर वैद्युत चुंबकीय बल दोनों कार्य करता है। इन दोनों बलों को सम्मिलित रूप से ‘लॉरेंट्ज बल’ कहते हैं।
⇒ F = q[E + V x B]

2. विद्युत फ्लक्स को परिभाषित करें। इसके SI मात्रक को लिखें।
उत्तर ⇒ किसी विद्युतीय क्षेत्र में किसी सतह के लम्बवत् गुजरने वाली कुल वैधुत बल रेखाओं की संख्या को ही ‘वैधुत फ्लक्स’ कहते हैं।
इसे Φ (फाई) द्वारा सूचित किया जाता है।
Φ = [ E•ds
E = विद्युतीय क्षेत्र,
ds = सतह का छोटा क्षेत्रफल
⇒ इसका S.I. मात्रक N-m2c-1 होता है।

3. शंट क्या है? इसके दो उपयोग लिखें।
उत्तर ⇒ वह युक्ति जो विद्युत परिपथ में विद्युत धारा के संचरण के लिए कम प्रतिरोध का पथ उत्पन्न करता है, शंट कहलाता है।
उपयोग
(i) इसका प्रयोग गैल्वेनोमीटर से एमीटर बनाने में किया जाता है।
(ii) इसका प्रयोग गैल्वेनोमीटर और ऐमीटर को प्रबल विद्युत धारा से सुरक्षित रखने के लिए किया जाता है।

4. विद्युत-चुंबकीय प्रेरण का लेंज का नियम, ऊर्जा के संरक्षण के सिद्धांत का – पालन करता है। इसकी विवेचना करें।
उत्तर ⇒ जब चुंबक को किसी लुप के नजदीक या लूपं से दूर ले जाया जाता है तो लूप में विद्युत धारा प्रेरित होती है। अतः लेंज का नियम से प्रेरित धारा उत्पन्न होने का कारण यांत्रिक ऊर्जा का विद्युत ऊर्जा में परिवर्तन होना है। एक (यांत्रिक) ऊर्जा का दूसरे (विद्युत) ऊर्जा में परिवर्तन को ही ऊर्जा संरक्षण का सिद्धांत कहते हैं। इस प्रकार विद्युत चुंबकीय प्रेरण का लेंज नियम ऊर्जा संरक्षण के सिद्धांत का पालन करता है।

5. विद्युत-चुंबकीय तरंग के दो गुणों को लिखें।
उत्तर ⇒ विद्युत चुंबकीय तरंगों के दो गुण निम्नलिखित हैं
(i) ये तरंगें अनुप्रस्थ होती हैं।
(ii) इन तरंगों के गमन हेतु माध्यम की आवश्यकता नहीं होती है।

 

6. किसी सतह पर विद्युत फ्लक्स की परिभाषा दें।
उत्तर ⇒ विद्युत फ्लक्स, किसी सतह से विद्युत क्षेत्र के प्रवाह की दर है। अर्थात् विद्युत फ्लक्स किसी सतह से गुजरनेवाली विद्युत क्षेत्र रेखाओं के अनुक्रमानुपाती होती है।

7. वायुमंडल वैद्युत उदासीन नहीं होता है, क्यों ?
उत्तर ⇒ वायुमंडल में मुख्यतः नाइट्रोजन तथा ऑक्सीजन गैस होता है एवं इसके अलावा कार्बन डाईऑक्साइड, जलवाष्प, हाइड्रोकार्बन, सल्फर के यौगिक तथा धूलकण होते हैं। सूर्य की किरणों में यौगिक कण तथा धूल कण होते है। सूर्य की किरणे यौगिक कणों तथा धूलकणों से टकराकर इन्हें आयनीकृत कर देती है। अतः वायुमंडल विद्युत उदासीन नहीं होता है।

 

8. अतिचालकता से क्या समझते हैं ?
उत्तर ⇒ कुछ ऐसे पदार्थ होते हैं जिनकी प्रतिरोधकता ताप घटाने पर धातु की तरह पहले नियमित रूप से घटती है और एक ताप पर उसकी प्रतिरोधकता एकाएक घटकर शून्य हो जाती है। इस घटना को अतिचालकता कहते हैं और ऐसे पदार्थ को अतिचालक कहा जाता है।

 

9. चुम्बकीय क्षेत्र रेखाएँ क्या है ? इसके दो गुणों को लिखें।
उत्तर ⇒ चुम्बकीय क्षेत्र रेखाएँ-चुम्बकीय क्षेत्र में चुम्बकीय क्षेत्र रेखाएँ वैसे संतत काल्पनिक बंद वक्र हैं जो चुम्बक के उत्तरी ध्रुव से निकलकर उसके दक्षिणी ध्रुव तक जाते हैं।
गुण:-.
(i) चुम्बकीय क्षेत्र रेखाएँ एक-दूसरे को कभी नहीं काटती है।
(ii) चुम्बकीय क्षेत्र रेखा के किसी बिंदु पर खींची गई स्पर्श रेखा उस बिंदु पर चुम्बकीय क्षेत्र की दिशा को निरूपित करती है।

 

10. आवेश के क्वांटीकरण से क्या समझते हैं ?
उत्तर ⇒ आवेश का क्वांटीकरण-किसी आवेशित वस्तु पर स्थित आवेश हमेशा इलेक्ट्रॉनिक आवेश का पूर्ण गुणज होता है।
अर्थात् किसी वस्तु पर आवेश
Q = ± ne
जहाँ e = इलेक्ट्रॉनिक आवेश = 1.6 x 10^-19 कूलॉम । इसे ही आवेश का क्वांटीकरण कहा जाता है।

 

11. लौह-चुम्बकीय पदार्थ से क्या समझते हैं ? इसके गुणों को लिखें।
उत्तर ⇒ लौह-चुम्बकीय पदार्थ-कुछ पदार्थ ऐसे होते हैं जिनकी चुम्बकीय प्रवृत्ति तो धनात्मक होती है एवं चुम्बकीय क्षेत्र में रखे जाने पर इनमें चुम्बक का गुण सहज ही आ जाता है और वे शक्तिशाली चुम्बक बन जाते हैं । इन पदार्थों को लौह चुम्बकीय पदार्थ कहा जाता है।
उदाहरण:- लोहा , निकेल, कोबाल्ट इत्यादि।
गुण:
(i) प्रकृति में पाए जाने वाले लौह चुम्बकीय पदार्थ रवेदार ठोस होते
(ii) चुम्बकीय क्षेत्र का आकर्षण बहुत ही प्रबल होता है।
(iii) इनकी आपेक्षिक चुम्बकशीलता एकांक से बहुत अधिक होती है।
(iv) इनकी चुम्बकीय प्रवृत्ति धनात्मक और बहुत बड़ी होती है।
(v) ताप वृद्धि से इनकी चुम्बकीय प्रवृत्ति अनियमित और जटिल रूप से बदलती है।

12. क्यूरी के नियम से क्या समझते हैं?
उत्तर ⇒ ऐसा पाया जाता है कि अनुचुम्बकीय पदार्थों की चुम्बकीय प्रवृत्ति तापमान के व्युत्क्रमानुपाती होता है अर्थात्
Xm ∝ 1/T → इसे ही क्यूरी का नियम’ कहा जाता है।

 

13. पराबैंगनी विकिरण के दो गुणों एवं दो उपयोगों को लिखें।
उत्तर ⇒ पराबैंगनी विकिरण के दो गुण एवं दो उपयोग
गुण:
(i) ये किरणे काँच द्वारा अवशोषित हो जाती है।
(ii) वायुमंडल के अणुओं-परमाणुओं को आयनीकृत कर देती है, जिसके कारक आयन मंडल का निर्माण होता है। है
उपयोग:
(i) अदृश्य लिखावट एवं कीमती पत्थरों की पहचान हेतु इनका उपयोग होता है।
(ii) पदार्थ के संरक्षण में इनका उपयोग होता है।

 

14. ऑप्टिकल फाइबर क्या है ? इसके दो उपयोगों को लिखें।
उत्तर ⇒ प्रकाशीय फाइबर एक ऐसी युक्ति है, जो प्रकाश ऊर्जा को बिना उसके तीव्रता में हानि के एक स्थान से दूसरे स्थान तक प्रेरित करता है। यह प्रकाश के पूर्ण आंतरिक परावर्तन सिद्धांत पर आधारित है।
इसका दो उपयोग :
(i) ऑप्टिकल फाइबर का उपयोग चिकित्सीय जाँच में किया जाता है।
(ii) प्रकाश को एक स्थान से दूसरे स्थान तक भेजने में इसका उपयोग किया जाता है।

 

15. अपवर्तनांक से क्या समझते हैं —
उत्तर ⇒ अपवर्तनांक एक नियतांक है, जिसके मदद से किसी भी माध्यम के प्रकाशीय व्यवहार की जानकारी प्राप्त होती है। किसी माध्यम का अपवर्तनांक निम्नलिखित दो कारकों पर निर्भर करता है
(i) माध्यम का अपवर्तनांक, माध्यम के घनत्व पर निर्भर करता है।
(ii) किसी भी माध्यम का अपवर्तनांक प्रकाश के तरंगदैर्ध्य पर निर्भर करता है, साथ ही प्रकाश के रंग पर भी निर्भर करता है।

 

16. प्रकाश विद्युत प्रभाव क्या है ?
उत्तर ⇒ प्रकाश विद्युत प्रभाव → धातु पृष्ठ से प्रकाश के आपतन के कारण इलेक्ट्रॉनों के उत्सर्जन को घटना को प्रकाश विद्युत प्रभाव कहा जाता है। प्रकाश द्वारा उत्सर्जित इलेक्ट्रॉनों को फोटो इलेक्ट्रॉन तथा इनके प्रवाह के कारण उत्पन्न धारा को प्रकाश विद्युत धारा कहा जाता

 

17. विकिरण के क्वांटम सिद्धांत को लिखें।
उत्तर ⇒ विकिरण का क्वांटम सिद्धांत → प्लांक के क्वांटम सिद्धांत के अनुसार “प्रकाश ऊर्जा के छोटे-छोटे बंडलों के रूप में चलता है, जिन्हें फोटॉन (Photon) कहते हैं
तथा प्रत्येक फोटॉन की ऊर्जा E = hv होती है, जहाँ h = प्लांक का नियतांक एवं ν = आवृत्ति
यही विकिरण का क्वांटम सिद्धांत है।

 

18. नाभिकीय बल क्या है? इसके गुणों को लिखें।
उत्तर ⇒ नाभिकीय बल — नाभिक में उपस्थित कणों के बीच प्रबल आकर्षण का नाभिकीय बल कहा जाता है जो उन्हें एक-दूसरे से बाँधे रहता है।
गुण:
(i) नाभिकीय बल आकर्षण बल होते हैं।
(ii) नाभिकीय बल अत्यंत लघु परासी बल होते हैं।
(iii) नाभिकीय बल अवैद्युत तथा अगुरुत्वीय होते हैं।
(iv) नाभिकीय बल अत्यंत प्रबल होते हैं।

 

19. कैथोड किरणें क्या है? समझावें।
उत्तर ⇒ कैथोड किरणें → कैथोड किरणें बहुत से इलेक्ट्रॉनों के तेजगामी प्रवाह है जो सभी तत्वों में विद्यमान है।
गुण:
(i) ये ऋण आवेशित होते हैं।
(ii) इनके मात्रा तथा आवेश इलेक्ट्रॉन के बराबर है अर्थात् इनका आवेश 1.6 x 10-19 C तथा 9.1 x10-31 kg है।

 

 

20. ऐनालॉग और डिजिटल संकेत से क्या समझते हैं ?
उत्तर ⇒ ऐनालॉग संकेत → एक लगातार बदलने वाले संकेत को ऐना-लॉग सकेत कहा जाता है।
जैसे – प्रत्यावर्ती धारा एक ऐनालॉग संकेत है ।
डिजिटल संकेत—ऐसा संकेत जिसके दो या दो के गुणज के अंसतत मान ही संभव हो, डिजिटल संकेत कहा जाता है।
जैसे — वर्ग तरंग एक डिजिटल संकेत है।

 

21. नोट लिखें:-
(a) www
(b) FAX
(c) Chat
(d) E-Commerce (ई-कॉमर्स)
उत्तर ⇒ (a) www—यह वर्ल्ड वाइड वेब का छोटा रूप है। ऐसे कम्प्यूटर जो दूसरे से बाँटने के लिए अपने भीतर कुछ विशिष्ट सूचना संग्रहित करते हैं या स्वयं ही अथवा वेब सेवा प्रदान करने वालों के द्वारा कोई वेबसाइट प्रदान करते हैं।
(b) FAX – अंकीय संचार तंत्र द्वारा किसी प्रलेख अथवा चित्र का किसी दूरस्थ स्थान पर इलेक्ट्रॉनिक पुनरूत्पादन ‘प्रतिचित्रण टेलीग्राफी (Fascimile telegraphy) अथवा फैक्स (FAX) कहलाता है।
(c) Chat – समान रूचि के व्यक्तियों द्वारा टाइप किए हुए संदेशों द्वारा बातचीत को चैट (Chat) करना कहते हैं।
(d) E- कॉमर्स → इलेक्ट्रॉनिक साधनों से क्रेडिट कार्ड का उपयोग करके इंटरनेट के उपयोग द्वारा व्यापार को प्रोन्नत करना, ई-कॉमर्स कहलाता है।

 

22. संधारित्र से क्या समझते हैं ? इसकी धारिता को भी बतावें ।
उत्तर ⇒ संधारित्र-वैसी व्यवस्था जिसमें एक विद्युतरोधी आवेशित चालक के निकट एक भूधृत चालक लाने से, पहले वाले चालक की धारिता कृत्रिम रूप से बढ जाती है. संधारित्र कहते हैं।
¤ संधारित्र की धारिता किसी संधारित्र की विद्युत धारिता संख्यात्मक रूप से उस आवेश का वह परिमाण है, जिससे संधारित्र के दोनों प्लेटों के बीच एकांक विभवांतर उत्पन्न होता है।
यदि संधारित्र की संग्राहक प्लेट पर ‘Q’ आवेश देने पर दोनों प्लेटों के बीच V विभवांतर उत्पन्न हो जाता है तो संधारित्र की धारिता (C)= Q/V

 

23. विद्युत चुम्बकीय प्रेरण क्या है ?
उत्तर ⇒ किसी बंद कुंडली और चुम्बक के बीच आपेक्षिक गति के कारण कुंडली में विद्युत वाहक बल के प्रेरित होने की घटना को विद्युत चुम्बकीय प्रेरण कहा जाता है।
कुंडली में उत्पन्न विद्युत वाहक बल को प्रेरित विद्युत वाहक बल तथा उत्पन्न धारा को प्रेरित धारा कहा जाता है।

 

24. पृथ्वी के चुम्बकत्व का क्या कारण है ?
उत्तर ⇒ पृथ्वी के चुम्बकत्व के संबंध में कई सिद्धांत प्रतिपादित किए गए हैं। किसी न किसी प्रकार अब यह माना गया है कि पृथ्वी के चुम्बकीय क्षेत्र का कारण इसके भीतर परिसंचरित विद्युत धाराएँ है। चुम्बकीय क्षेत्र इस प्रकार व्यवहार में लिया जाता है जैसे यह किसी प्रकार की विद्युत धारा से उत्पन्न हो रहा है।

 

25. विद्युतीय द्विधुव आघूर्ण क्या है? इसका S.I मात्रक को लिखें।
उत्तर ⇒ विद्युतीय द्विध्रुव के कोई एक आवेश एवं दोनों आवेशों के बीच के दूरी के गुणनफल को द्विध्रुव आघूर्ण कहा जाता है।
अतः द्विध्रुव आघूर्ण (P) = q x 2l
विद्युतीय द्विध्रुव आघूर्ण एक सदिश राशि है जिसकी दिशा हमेशा ऋण आवेश से धन आवेश की ओर होती है। इसका S.I. मात्रक कूलम्ब-मीटर होता है।

 

26. स्वप्रेरण एवं अन्योन्य प्रेरण में अंतर स्पष्ट करें।
उत्तर ⇒ किसी कुंडली से प्रवाहित धारा को परिवर्तित करने पर स्वयं उसी कुंडली में प्रेरित विद्युत वाहक बल तथा प्रेरित विद्युत धारा को उत्पन्न होने की घटना को स्वप्रेरण कहा जाता है।
जबकि एक कुंडली में धारा के परिवर्तन के कारण दूसरी कुंडली में प्रेरित विद्युत वाहक बल उत्पन्न होने की घटना को अन्योन्य प्रेरण कहा जाता है।

 

27. समझावें कि किरचॉफ का द्वितीय नियम ऊर्जा संरक्षण का नियम है —
उत्तर ⇒ किरचॉफ का दूसरा नियम ऊर्जा संरक्षण सिद्धांत पर आधारित है। हम जानते है कि प्रति एकांक आवेश के ऊर्जा से वोल्टेज (विभव) परिभाषित होता है। अतः प्रति एकांक आवेश के ऊर्जा में वृद्धि प्रति एकांक आवेश द्वारा खपत ऊर्जा के बराबर होता है । अर्थात् बंद परिपथ में आरोपित वोल्टेज का मान सभी प्रतिरोधकों के परितः विभवांतर के बराबर होता है एवं साथ ही आरोपित विभवांतर हमेशा खपत वोल्टेज के बराबर होता है।
अतः यह नियम ऊर्जा संरक्षण सिद्धांत पर आधारित है।

 

28. स्थायी चुम्बक एवं विद्युत चुम्बक में अंतर स्पष्ट करें।
उत्तर ⇒ स्थायी चुम्बक → जो चुम्बक कमरे के ताप पर अपना चुम्बकत्व दीर्घ काल के लिए बनाए रखते हैं, स्थायी चुम्बक कहलाते हैं । स्थायी चुम्बकों के लिए उपयुक्त लौह चुम्बकीय पदार्थों की धारणशीलता तथा निग्राहिता अधिक होनी चाहिए।
विद्युत चुम्बक → विद्युत चुम्बक ऐसे लौह चुम्बकीय पदार्थों के बनाये जाते हैं जिनकी चुम्बकशीलता अति उच्च चुम्बकीय धारणशीलता तथा निग्राहिता बहुत कम होती है।
नर्म लोहे की क्रोडयुक्त परिनालिका को विद्युत चुम्बक कहा जाता है।

 

29. चुम्बकीय क्षेत्र रेखाएँ क्या है ? इसके दो गुणों को लिखें।
उत्तर ⇒ चुम्बकीय क्षेत्र रेखाएँ → चुम्बकीय क्षेत्र में चुम्बकीय क्षेत्र रेखाएँ वैसे संतत काल्पनिक बंद वक्र हैं जो चुम्बक के उत्तरी ध्रुव से निकलकर उसके दक्षिणी ध्रुव तक जाते हैं।
गुण:
(i) चुम्बकीय क्षेत्र रेखाएँ एक-दूसरे को कभी नहीं काटती है।
(ii) चुम्बकीय क्षेत्र रेखा के किसी बिंदु पर खींची गई स्पर्श रेखा उस बिंदु पर चुम्बकीय क्षेत्र की दिशा को निरूपित करती है।

 

30. x किरण के उत्पत्ति को बताएँ एवं इसके गुणों को लिखें।
उत्तर ⇒ तीव्र गति से चलते हुए इलेक्ट्रॉन को अचानक मंदित करने पर एवं परमाणुओं के कक्षीय इलेक्ट्रॉन के संक्रमण के क्रम में ऊर्जा परिवर्तन से ‘x’ किरण उत्पन्न होता है।
गुण:
(i) ‘x’ किरण की वेधन क्षमता गामा किरण से कम होती है।
(ii) गैसों को आयनीकृत कर देते हैं।
उपयोग:-
(i) X किरणों द्वारा क्रिस्टलों की और उनके इलेक्ट्रॉनों की कक्षाओं की जानकारी मिलती है।
(ii) इन किरणों का उपयोग चिकित्सीय जाँच में, जासूसी विभाग में किया जाता है।

 

31. लेसर प्रकाश के गुणों एवं उपयोगों को लिखें।
उत्तर ⇒ लेजर प्रकाश के गुण
(i) लेजर प्रकाश एकवर्णी होता है।
(ii) ये अति कला सम्बंध होता है।
(iii) ये अति दिशात्मक होता है।
उपयोग:
(i) हीरे में छोटे छिद्र करने में,
(ii) चिकित्सा विज्ञान में इत्यादि।

 

32. नाभिकीय रिएक्टर क्या है? इसके दो उपयोग दें।
उत्तर ⇒ नाभिकीय रिएक्टर एक यंत्र है जिसमें नाभिकीय विखंडन की नियंत्रित श्रृंखला प्रतिक्रिया के द्वारा ऊर्जा उत्पन्न की जाती है।
उपयोग :
(i) इसके द्वारा अनेक तत्वों के रेडियो आइसोटोप बनाए जाते हैं।
(ii) इसके द्वारा विद्युत शक्ति उत्पन्न की जाती है।

 

     YouTube – Education Galaxy

S.NO 12th PHYSICS OBJECTIVE 
   1. विधुत आवेश तथा क्षेत्र   kk
   2. स्थिरवैधुत विभव तथा धारिता   kk
   3. विधुत धारा    kk
   4. गतिमान आवेश और चुम्बकत्त्व  kk
   5. चुम्बकत्व एवं द्रव्य   kk
   6. विधुत चुम्बकीय प्रेरण   kk
   7. प्रत्यावर्ती धारा   kk
   8. विधुत चुम्बकीय तरंगे   kk
   9. किरण प्रकाशिकी एवं प्रकाशिक यन्त्र   
  10. तरंग – प्रकाशिकी   kk
  11. विकिरण तथा द्रव्य की द्वैत प्रकृति  kk
  12. परमाणु   kk
  13. नाभिक   kk
  14. अर्धचालक इलेक्ट्रोनिकी kk
  15. संचार व्यवस्था kk 

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page